डिस्प्ले पर भारत की क्षमताएं

जीजेईपीसी प्रमुख बाजारों में भारतीय निर्माताओं और विदेशी खरीदारों के बीच बातचीत की सुविधा बढ़ाने के लिए साल भर कई बी 2 बी व्यापार कार्यक्रमों का आयोजन करता है। ये भारत और विदेश में विभिन्न स्थानों पर होते हैं और इसमें कई अलग-अलग स्वरूप शामिल होते हैं। जीजेईपीसी के बैनर के अंतर्गत कुछ प्रमुख व्यापारिक कार्यक्रम सीधे भारत में होते हैं। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार निकायों के सहयोग से कुछ विदेशी पहलों का आयोजन किया जाता है।

जीजेईपीसी के बैनर के अंतर्गत कुछ प्रमुख व्यापारिक कार्यक्रम सीधे भारत में होते हैं। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार निकायों के सहयोग से कुछ विदेशी पहलों का आयोजन किया जाता है।

जीजेईपीसी दिखाता है
शो की तिथियां

4 - 7 अगस्त, 2016
8 अगस्त, 2016

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय आभूषण शो (आईआईजेएस)

आईआईजेएस, पहली बार 1985 में शुरू हुआ था, यह हर वर्ष जुलाई- अगस्त के दौरान मुंबई में आयोजित किया जाता है। भारत का यह प्रमुख आभूषण शो और एशिया में दूसरा सबसे बड़ा बी 2 बी व्यापार शो खुदरा विक्रेताओं/ थोक विक्रेताओं को भारतीय और अमेरिकी दोनों बाजारों में प्रमुख खरीदारी के मौसम से पहले निर्माताओं से बातचीत में मदद करता है। पांच दिवसीय आयोजन हीरे के जड़े, रंगीन नगों और सोने के सामान्य आभूषण क्षेत्रों के साथ पॉलिश किए हीरे और रत्नों के आपूर्तिकर्ताओं में 850 से अधिक प्रदर्शकों को एक साथ लाता है और 85 देशों और भारत के 875 शहरों से 30,000 से अधिक व्यापारिक आगंतुकों को आकर्षित करता है।

शो की तिथियां

3 - 6 फरवरी 2016
8 अगस्त, 2017

सिग्नेचर आईआईजेएस

2008 में बड़े आईआईजेएस के पूरक के रूप में शुरू किया गया, सिग्नेचर आईआईजेएस एक प्रीमियम बी 2 बी इवेंट है जो देश के अग्रणी जौहरियों के संग्रह चुनिंदा भारतीय और अंतरराष्ट्रीय खुदरा विक्रेता दर्शकों को प्रदर्शित करता है। इसका फोकस डिजाइन, शिल्प कौशल औरत फिनिशिंग पर होता है और लगभग 550 प्रदर्शकों के नवीनतम संग्रह के साथ खरीदारों को चोटी के खरीद मौसम के समाप्त होने के तुरंत बाद नए स्टाक के स्रोत का अवसर प्रदान करता है। यह शो हर साल फरवरी में मुंबई में आयोजित किया जाता है।

शो की तिथियां

3 - 6 फरवरी 2016
8 अगस्त, 2017

भारत रत्न एवं आभूषण मशीनरी प्रदर्शनी (आईजीजेएमई)

एक आल इन वन मंच जहां आभूषण/ हीरे / रत्न शामिल हैं, साथ ही औज़ार, घटक और उपकरण और संबंधित क्षेत्र (पैकेजिंग और डिस्प्ले/ आईटी और सॉफ्टवेयर/ शिक्षा) के निर्माण में इस्तेमाल मशीनरी के आपूर्तिकर्ता आदि दुनिया भर से भारत में हीरे, रत्न और आभूषण निर्माताओं के साथ बातचीत कर सकते हैं। 2013 में शुरू, इस बी 2 बी शो में लगभग 125 प्रदर्शक थे और सूरत डायमंड एसोसिएशन के साथ मिलकर सूरत के हीरे के विनिर्माण केंद्र में वर्ष के अंत में आयोजित किया गया था।

भारत मंडप

जीजेईपीसी ने दुनिया भर के लगभग 10 प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आभूषण शो में भारत के पेविलियन का आयोजन किया है, जो विकसित और विकासशील दोनों तरह के बाजारों को कवर कर रहा है। एक आम बैनर के तहत भारतीय प्रदर्शकों की ऐसी संयुक्त भागीदारी में विभिन्न आकार की कंपनियों को भागीदारी की सुविधा है और अग्रणी जी एंड जे केंद्र के रूप में भारत की समग्र शक्ति दिखाता है।

खरीदार-विक्रेता बैठक

बीएसएम (खरीदार-विक्रेता बैठक) विशेष रूप से भारतीय निर्माताओं और उनके ग्राहकों के बीच विशेष बाजार में प्रत्यक्ष संपर्क बढ़ाने के लिए विशेष रूप से डिजाइन की गई है और इसमें दोनों पक्षों के सहभागियों में आमने सामने परस्पर संवाद शामिल होता है साथ ही कारखाने के दौरे, सेमिनार/ चर्चा और नेटवर्किंग संध्या होती है।

Upcoming Events